ଭାରତୀୟ ଭାଷାଗୁଡ଼ିକ ମାଧ୍ୟମରେ ଜ୍ଞାନ

भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Palaeobotany Definitional Dictionary (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

Trigonocarpus

ट्राइगोनोकार्पस
संवहनी पादपों के जिम्नोस्पर्मोप्सिड़ा वर्ग के टेरिडोस्पर्मेलीज गण का एक अनंतिम वंश। कार्बनी युग के इन बीजों में कवच लम्बाईवार तीन समान पाटों में विभाजित रहता है, बीजाण्ड द्वार लम्बा होता है तथा दुहरा संवहन-तंत्र होता है।

Trigonomyelon

ट्राइगोनोमाएलॉन
संवहनी पादपों के जिम्नोस्पर्मोप्सिड़ा वर्ग का एक अनंतिम वंश। पर्मियन युग के इन काष्ठों में मज्जा में तीन या अधिक पालियाँ होती हैं।

Rilete

त्रिअरी
(परागाणु) जिसमें त्रिअर चिह्न हों; (चिह्न) जिसमें तीन अर हों तथा जो Y के आकार का हो।

Triletes

ट्राइलिटीज़
परागाणु प्रभाग जिसमें वे परागाणु सम्मिलित हैं जिनमें त्रिअर चिह्न होता है।

Trilete saccite

ट्राइलीट सैक्काइट
परागाणु प्रभाग सैक्काइटीज का अधोप्रभाग जिसमें वे पराग सम्मिलित हैं जिनमें एक कोश तथा त्रिअर चिह्न होता है।

Triletes azonales

ट्राइलिटीज़ ऐजोनेलीज
परागाणु प्रभाग जिसमें वे परागाणु सम्मिलित हैं जिसमें त्रिअर चिह्न तो होता है पर जोना और मेखला नहीं होते हैं।

Trimerophyton

ट्राइमेरोफाइटोन
संवहनी पादपों के ट्राइमेरोफाइटॉप्सिडा वर्ग का एक वंश। डिवोनियन युग के इन पौधों में कई त्रिशाखित पर्श्विक शाखाएँ होती हैं। अन्तिम शाखाओं में तीन के गुच्छों में बड़ी बीजाणुधानियाँ होती हैं।

Trimerophytophyta

ट्राइमेरोफाइटोफाइटा
दे. Trimerophytopsida

Trimerophytopsida

ट्राइमेरोफाइटॉप्सिडा
संवहनी पादपों का एक वर्ग। डिवोनियन युग के इन मूलहीन तथा पर्णहीन पौधों में राइजोम तथा शाखित अक्ष होते हैं। पार्श्विक शाकाएँ त्रिभाजन दर्शाती है। अक्ष में एक केन्द्रीय एक विशाल आदिरंभ होता है। बीजाणुधानियाँ सिरों पर लगती है। इस वर्ग का प्रारूपिक वंश ट्राइमेरोफाइटॉन है। कुछ आचार्य इस वर्ग को प्रभाग (ट्राईमेरोफाइटोफाइटा) या उप प्रभाग (ट्राईमेरोफाइटोफाइटिना) मानते हैं।

Triporines

ट्राइपोरिनीज़
प्रभाग प्लिकेटीज का उप प्रभाग जिसमें वे परागाणु सम्मिलित हैं जिनकी एक्साइन (बाह्यचोल) में तीन रंध्र (पोरस) होते हैं।

Tristachya

ट्राइस्टैक्या
संवहनी पादपों के स्फीनोप्सिडा वर्ग के स्फीनोफिल्लेलीज गण का एक वंश। कार्बनी व पर्मियन युग के इन पादपों में जुड़ा हुआ अक्ष होता है, प्रत्येक पर्वसंधि पर तीन स्फानाकार पत्तियाँ होती हैं।

Tristichia

ट्राइस्टीकिया
संवहनी पादपों के जिम्नोस्पर्मोप्सिड़ा वर्ग के टेरिडोस्पर्मोलीज गण का एक वंश। कार्बनी युग के इन पौधों में त्रिकोणाकार रंभ होता है।

Trizygia

ट्राइजीगिया
संवहनी पादपों के स्फीनॉप्सिडा वर्ग का एक वंश। पैलियोज़ोइक युग के इन पौधों में पत्रियों में केवल एक ही शिरा होती हैं।

Tuberini

ट्यूबेरिनी
परागाणु अधोप्रभाग जिसमें वे परागाणु सम्मिलित हैं जिनमें चिकनी एक्साइन में एक पैपिला (लिगुला) निकली होती है।

Tubicaulis

ट्यूबीकॉलिस
संवहनी पादपों के फिलिकॉप्सिड़ा वर्ग का एक अनंतिम वंश। कार्बनी युग के इन तनों में ऐनाकोरोप्टेरिस प्रकार का पर्णवृन्त लगा होता है।

Tufa

टूफा
स्पंजी तथा रंध्रिल चूना पत्थर जो कैल्शियम कार्बोनेट होता है तथा पत्तियों पर अक्षेपित होकर उस अंग को परिरक्षित कर देता है।

Turma

टुर्मा, प्रभाग
विकीर्ण परागाणुओं के कृत्रिम वर्गीकरण में प्रयुक्त कोटि, जो महाप्रभाग (एन्टेटुर्मा) के नीचे आती है। उदा. ट्राइलीटीज-ऐजोनेलीज

Ulcus

अल्कस
एकल, पोरस जैसा छिद्र जो परागाणु के दूरस्थ क्षेत्र में स्थित होता है।

Ullmania

अल्मानिया
संवहनी पादपों के जिम्नोस्पर्मोप्सिड़ा वर्ग के वोल्टजिएलीज गण का एक वंश। पर्मियन युग की ये वामन शाखाएँ बिम्बाभ होती हैं।

Umkomosia

अम्कोमैसिया
संवहनी पादपों के जिम्नोस्पर्मोप्सिडा वर्ग के केटोनिएलीज गण का एक अनंतिम वंश। ट्राइएसिक युग के इन बीजाणुधारी अंगों के अक्ष की शाखाओं में सवृन्त क्युप्यूल होते हैं।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  ଭାରତବାଣୀ ଆପ୍ ଡାଉନ୍‌ଲୋଡ଼୍ କରନ୍ତୁ
  Bharatavani Windows App